पूनम की बुर का भोसड़ा

(Poonam Ki Bur Ka Bhosda Fuddi) 26 नवम्बर 2012 को पूनम की शादी समर से हुई। पूनम उसकी पत्नी बन कर समर के घर आई। वैसे तो पूनम के अन्दर न तो ऐश्वर्या राय वाली सुन्दरता थी और न ही जैकलीन, कैटरीना कैफ़ और करीना कपूर की तरह गोरी चमड़ी.. न ही वो माधुरी दीक्षित…


होटल में एक रात

(Hotel mein ek raat) हाय जानू… मैं अभी ट्रेन में हूँ और मेरे गाँव जा रही हूँ। पता नहीं क्यूँ रात में ट्रेन कहीं रुक गई है इसलिए मैं सीक्रेट्ली तुम्हारे लिए कॉन्फेशन रिकॉर्ड कर रही हूँ। राहुल और मैं कल्याण पहुँचने के बाद एक रात एक होटल में रुके। ट्रेन अगली सुबह आने वाली…


तेरा साथ है कितना प्यारा-7

(Tera Sath Hai Kitna Pyara -7) This story is part of a series: तेरा साथ है कितना प्यारा-1 तेरा साथ है कितना प्यारा-6 व्‍व्वो मैं क्‍्क्कु…छ…नहींईईइ…’ बस इतना ही फूटा मुकुल के मुंह से… मैं हंसने लगी। मुकुल मुझसे नजरें नहीं मिला पा रहा था। मुझे लगा कि अभी शायद यह कुछ नहीं करेगा पर…


तेरा साथ है कितना प्यारा-5

(Tera Sath Hai Kitna Pyara -5) This story is part of a series: तेरा साथ है कितना प्यारा-1 तेरा साथ है कितना प्यारा-4 आशीष भी नितम्ब उठाकर मेरा साथ देने लगे। आशीष के नितम्ब ऊपर होते ही मैंने तेजी आशीष का पायजामा निकाल कर फेंक दिया। आशीष की दोनों टांगों के बीच में लटका हुआ…


तेरा साथ है कितना प्यारा-4

(Tera Sath Hai Kitna Pyara -4) This story is part of a series: तेरा साथ है कितना प्यारा-1 तेरा साथ है कितना प्यारा-3 अपनी योनि को अच्छी तरह धोने के बाद मैं वापस अपने कमरे में आई तो देखा आशीष अपना नाईट सूट पहनकर टीवी देखने लगे। मैं भी अब पहले से बहुत अच्छा अनुभव…


तेरा साथ है कितना प्यारा-3

(Tera Sath Hai Kitna Pyara -3) This story is part of a series: तेरा साथ है कितना प्यारा-1 तेरा साथ है कितना प्यारा-2 आशीष ने मुझे पीछे घुमाकर मेरी ब्रा का हुक कब खोला मुझे तो पता भी नहीं चला। मेरे शरीर के ऊपरी हिस्से से ब्रा के रूप में अंतिम वस्त्र भी हट गया,…


तेरा साथ है कितना प्यारा-2

(Tera Sath Hai Kitna Pyara -2) This story is part of a series: तेरा साथ है कितना प्यारा-1 पिताजी बोले- बेटा, फैक्ट्री में ज्यादा काम की वजह से तुम दोनों हनीमून के लिये नहीं गये। यह बात मेरी समझ में आती है पर कम से कम एक दिन को बहु को कहीं बाहर घुमा लाओ।…


तेरा साथ है कितना प्यारा-1

(Tera Sath Hai Kitna Pyara -1) This story is part of a series: View all stories in series आज से मेरे बेटे का नाम करण पड़ गया। कई दिनों से नामकरण संस्कार की तैयारियों में पूरा परिवार व्यस्त था। किसी के पास सांस लेने भर की फुर्सत नहीं थी। परन्तु अब सभी कुछ आराम करना…


चुदाई की चैट से पटा कर

(Chut Chudai Ki Chat Se Pata Kar) मैं अल्पेश, अहमदबाद से एक सीधा-सादा युवक हूँ। मेरी उम्र 25 साल है। मैं एक कंपनी में जॉब करता हूँ और यह मेरी जिन्दगी की सच्ची कहानी है। मुझे कॉलेज के समय से ही चैटिंग का बहुत शौक था, मैं हर रोज कैफ़े में जाकर चैट किया करता…


शादी में बनी रण्डी

(Shadi me Bani Randi) दोस्तो, मैं आसिफा आपके लिए अपनी सच्ची घटना के साथ हाजिर हूँ। मैं भोपाल में रहती हूँ। मेरे जिस्म के बारे में मैं आप को बता दूँ कि मैं थोड़ी मोटी हूँ, जिसकी वजह से मेरी गोल और उभरी हुई गांड के सब दीवाने हैं। मेरे मम्मे काफी बड़े-बड़े हैं, जिन्हें…